कवि सुजान

कवि-परिचय-  सूबे सिहं “सुजान”

जन्म स्थान-गाँव ईशाकपुर,जिला- कुरूक्षेत्र,हरियाणा,भारत

शिक्षा-स्नातक,जे.बी.टी.,एम.फिल.हिन्दी

कार्यक्षेत्र- प्राथमिक अध्यापक

रूचि- अध्ययन-अध्यापन,लेखन एवं समाज सेवा

रेडियोवार्ता-आकाशवाणी कुरूक्षेत्र एंव रोहतक से अनेक रेडियोवार्तायें प्रसारित।

प्रकाशित रचनायें- (सीने में आग) 2007 में प्रथम हिन्दी गजल संग्रह प्रकाशित तथा समय-समय पर दैनिक ट्रिब्यून,दैनिक भास्कर,दैनिक जागरण,एंव हरियाणा साहित्य अकादमी की मासिक ( हरिगंधा) में गजलें प्रकाशित।

सदस्यता- अदबी संगम कुरूक्षेत्र के सक्रिय सदस्य तथा पंजाब केसरी जालंधर के कार्यालय में कवि सम्मेलनों में भाग लिया।

संगठन पद- राजकिय प्राथमिक शिक्षक संघ के सात वर्षों से जिला प्रैस सचिव।

संपर्क- गाँव सुनेहडी खालसा,डाकखाना-सलारपुर,जिला- कुरूक्षेत्र, (हरियाणा) पिन-136119 , भारत

मो. 0416334841

मेल-subesujan21@gmail.com

 

 

गजलें-

1.

तेरी नजरों में मेरा अक्स हिलता सा दिखाई दे

Advertisements

About kavisujan

hindi poet- i am write hindi ghazals,kavitatorys etc.
यह प्रविष्टि Uncategorized में पोस्ट की गई थी। बुकमार्क करें पर्मालिंक

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s