Monthly Archives: अक्टूबर 2015

T-26/8 बोल दूँ जब झूठ, मुझको ठीक समझा जाए है-सूबे सिंह “सुजान”

Source: T-26/8 बोल दूँ जब झूठ, मुझको ठीक समझा जाए है-सूबे सिंह “सुजान” Advertisements

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | 1 टिप्पणी

बातें इतनी पक गईं

बातें इतनी पक गई, सच झूठ समझा जाए है वक्त क्या आया, हक़ीक़त को कुरेदा जाए है ।

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे

हिन्दी भाषा के समाचार , हिन्दी में ही लिखें

प्रधान संपादक, दैनिक भास्कर समूह एवं डीबी डिजिटल    महोदय/महोदय,   आपकी अंग्रेजी वेबसाइट 100% अंग्रेजी में हैं पर हिंदी वेबसाइट पर 40% अंग्रेजी क्यों परोस रहे हैं? अभी आपने समाचार-पत्र को रोमन लिपि से बख्श रहा है, अखबार में अंग्रेजी की … पढना जारी रखे

Uncategorized में प्रकाशित किया गया | टिप्पणी करे